Teri tasveer

एक बार जो देख लो मुस्कुरा के,
मौसम की रंगत बदल जाये,
ले लो जो अपनी बाहों में,
आईना भी शरमा जाए,
देख के सूरत आपकी उजाला सा फैला है
चेहरे का नूर देख अब तो सूरज भी पिघला है
❤️❤️
तेरी तसवीर सीने से लगा के वही सकुन है
जो तेरे साथ मे है मेरे हमदम
आ ईक बार गले लगा के तु भी देख
कया कोई फर्क तुझे महसुस होता है
???

आज तेरी तसवीर जला के आई हु
यु लगता है जैसे अपनी ही चिता जला आईं
सब खतम कर दिया तेरी बेवफाई ने
बस रिशतो के साथ दिल भी दफना के आई हु
???

तेरी तसवीर देख देख जी रही हु
ये तुम कब समझोगे
कभी युही सामने आ जायो
तो जीने का मकसद मिल जाए
???

छुप छुप के तेरी तसवीर देखती थी
वो भी छुपा ना पाई
चोरी पकडी ना जाए मेरी
तुझे दिल मे बंद किए बैठी हु
???

जीने का सहारा है ये तेरी तसवीर
जितना देखती हुँ सासें बड जाती है